Doesn’t need Advice, just need our Support!

Once a bird was drawing water out of the sea with its beak.

Another bird asked brother what is he doing, bird said the sea has drowned my children, now I will dry it only to get back my cubs.

Hearing this, the other said, brother, will the sea dry up by you? You are small & the sea is so big. It will take your whole life.

First said if you want to give then give support, Don’t just need your advice.
Hearing this, the other bird also joined.

Thousands of such birds kept on coming & went on saying to others we don’t need advice, we want your support only.

Seeing this, Garuda, the vehicle of Lord Vishnu, also started going for this work. God said that you are being told that if you go, then my work will stop. You don’t even have to dry the sea with birds.

Garuda said God’s advice is not needed, Then what, hearing this, Lord Vishnu also came to dry the sea.

As soon as Lord ji came, the sea got scared and returned the cubs of that bird.

Today, even in the time of this Covid 19 crisis, the country does not need our advice, let’s follow our respective government guidelines & precautions.

There is a need of people who serve by standing with the society & not cursing anyone.

So don’t give advice Whoever supports India, then India will smile again, let’s get united to see our India happy smiling again & for the better future of our younger generation.

एक बार एक पक्षी अपनी चोंच से समुद्र से पानी निकाल रहा था।

एक और चिड़िया ने भाई से पूछा कि क्या कर रहे हो, चिड़िया ने कहा मेरे बच्चों को समुंदर ने डुबा दिया है, अब मैं इसे अपने शावकों को वापस लाने के लिए ही सुखाऊंगा।

यह सुनकर दूसरे ने कहा, भाई, क्या तुम्हारे द्वारा समुद्र सूख जाएगा?  तुम छोटे हो और समुद्र बहुत बड़ा है।  इसमें आपका पूरा जीवन लग जाएगा।

पहले कहा कि अगर देना है तो साथ दो, सिर्फ सलाह की जरूरत नहीं है।
यह सुन दूसरा पक्षी भी साथ में आ गया।

ऐसे हजारों पक्षी आते रहे और कहते रहे कि हमें सलाह की जरूरत नहीं है, हमें सिर्फ आपका साथ चाहिए।

यह देखकर भगवान विष्णु के वाहन गरुड़ भी इस कार्य के लिए जाने लगे।  भगवान ने कहा कि तुमसे कहा जा रहा है कि तुम जाओगे तो मेरा काम रुक जाएगा।  आपको पक्षियों के साथ समुद्र को सुखाने की भी जरूरत नहीं है।

गरुड़ ने कहा कि भगवान की सलाह की जरूरत नहीं है, फिर क्या, यह सुनकर भगवान विष्णु भी समुद्र को सुखाने के लिए आए।

भगवान जी के आते ही समुद्र डर गया और उस पक्षी के शावकों को वापस कर दिया।

आज इस कोविड-19 संकट के समय में भी देश को हमारी सलाह की आवश्यकता नहीं है, आइए हम अपने-अपने सरकारी दिशा-निर्देशों और सावधानियों का पालन करें।

ऐसे लोगों की जरूरत है जो समाज के साथ खड़े होकर सेवा करें और किसी को कोसें नहीं।

तो सलाह मत दो जो भी भारत का समर्थन करेगा, तो भारत फिर मुस्कुराएगा, आइए एक हो जाएं अपने भारत को फिर से मुस्कुराते हुए देखें और अपनी युवा पीढ़ी के बेहतर भविष्य के लिए।

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s