It’s never a tough thing to say Sorry, After that You will be relaxed so no worry. 🙏Micchami Dukkadam🙏

It’s never a tough thing to say Sorry, After that You will be relaxed so no worry.
Ego & Love Are the Branches of the same tree.
Just the difference is, Love always wants
to Say Sorry, & Ego always wants to Hear it..!
Leaving the difference aside On the auspicious holy occasion of Paryushan Parv, I would like to apologize for any of my inconvenience, mistakes, actions, words that I said or acted, resulting in directly or indirectly hurting you in any way, knowingly or unknowingly, so asking forgiveness for all the troubles, hurt, pain caused to you.
🙏Micchami Dukkadam🙏

सॉरी कहना कभी भी मुश्किल काम नहीं है, उसके बाद आप रिलैक्स हो जाएंगे इसलिए चिंता की कोई बात नहीं है।
अहंकार और प्रेम एक ही वृक्ष की शाखाएं हैं।
बस फर्क इतना है, प्यार हमेशा चाहता है
सॉरी बोलना और अहंकार हमेशा सुनना चाहता है..!
अंतर को छोड़कर पर्युषण पर्व के पावन पावन अवसर पर मैं अपनी किसी भी असुविधा, गलती, कार्य, शब्द जो मैंने कहा या कार्य किया, जिसके परिणामस्वरूप प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष रूप से आपको किसी भी तरह से, जाने या अनजाने में चोट लगी हो, के लिए मैं क्षमा चाहता हूं,  इसलिए आपको हुई सभी परेशानियों, चोट, दर्द के लिए क्षमा मांगना।
🙏मिचामी दुक्कदाम🙏

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s